कन्धों का दर्द (Frozen Shoulder)

Print Friendly, PDF & Email

अधिकाँश लोग इस बीमारी के लिए फिजीयोथेरेपिस्ट के पास जाते है, मुझे भी यही सलाह दी थी मेरे शुभचिंतकों ने | लेकिन मैं डॉक्टर्स के पास जाना पसंद नहीं करता तब तक, जब तक मैं किसी भी बिमारी को बर्दाश्त कर सकूं | Continue Reading →

337 total views, 4 views today

[read_more id="1" more="Read more" less="Read less"]Read more hidden text[/read_more]
Share this post

जो डर गया समझो मर गया !

Print Friendly, PDF & Email

दोस्तो सबसे पहले साँपो के बारे मे एक महत्वपूर्ण बात आप ये जान लीजिये ! कि अपने देश भारत मे 550 किस्म के साँप है ! जैसे एक Cobra है, Viper है, Karait है ! ऐसी 550 किस्म की साँपो की जातियाँ हैं ! इनमे से मुश्किल से 10 साँप है जो जहरीले है सिर्फ 10 ! बाकी सब Non Poisonous है! इसका मतलब ये हुआ 540 साँप ऐसे है जिनके काटने से आपको कुछ नहीं होगा !! बिलकुल चिंता मत करिए ! लेकिन साँप के काटने का डर इतना है (हाय साँप ने काट लिया ) और कि कई बार आदमी Heart Attack से ही मर जाता है ! जहर से नहीं मरता cardiac arrest से मर जाता है ! तो डर इतना है मन मे ! तो ये डर निकलना चाहिए ! वो डर कैसे निकलेगा ???? जब Continue Reading →

758 total views, 3 views today

[read_more id="1" more="Read more" less="Read less"]Read more hidden text[/read_more]
Share this post

वीर्य को जल्दी गिरने से रोकने के 5 रामबाण घरेलु उपाय, जरूर अपनाए…..

Print Friendly, PDF & Email

वीर्य का जल्दी गिरना आजकल एक आम समस्या बन गई है। जिसकी मुख्य वजह हैं युवाओं में टेंशन का अधिक लेना, गलत साहित्य पढ़ना, गंदी फिल्में देखना व सही तरह का खान-पान न करना आदि है। यदि आप भी इस तरह की समस्या से परेशान हैं तो आप आयुर्वेद में दिए गए कुछ उपायों को अपने घर पर ही बनाकर इस परेशानी से ठीक हो सकते हों। शीध्रपतन जैसी समस्याओं से बचने के लिए वैदिक वाटिका आपको बता रही है आसान नुस्खे। वीर्य को जल्दी गिरने से रोकने के उपाय : बबूल का पंचाग : बबूल के पत्ते, छाल, फल, गोंद और फूल को बराबर मात्रा में लेकर अच्छे से सुखा लें और फिर इसे पीस लें। अब कपड़े से छानकर इसे किसी शीशी में भरकर रख दें। सेवन की विधि :बबूल के बने इस चूर्ण का सेवन सुबह और Continue Reading →

1,074 total views, 3 views today

[read_more id="1" more="Read more" less="Read less"]Read more hidden text[/read_more]
Share this post

औषधीय गुणों से भरपूर हैं प्याज और लहसुन

Print Friendly, PDF & Email

एक प्रश्न पूछा मित्र ने कि यदि मान लें कि हिन्दू, मुस्लिम, सिख ईसाई नाम के दड़बों से मुक्त होकर सभी आदिवासियों, पशु-पक्षियों व सम्पूर्ण ब्रम्हांड समस्त ग्रहों व नक्षत्रों की तरह सनातन धर्म अपना लें और एक ही ईश्वर  या सूर्य, चन्द्र, या वायु, जल के उपासक हो जाएँ, धर्म और जाति के सभी भेद मिट जाएँ… तो क्या यह नफरत और हिंसा रुक जायेगी ? उत्तरः न नफरत रुकेगी और न ही हिंसा रुकेगी, न ही भेदभाव समाप्त होंगे सभी कुछ वैसे ही चलता रहेगा | बस अंतर इतना ही पड़ेगा कि अब लोग दड़बों के नाम पर नहीं लड़ेंगे लेकिन रास्ते दूसरे खोज लेंगे | जैसे शाकाहारी और माँसाहारियों में युद्ध हुआ करेगा जैसे कि पहले होता था शैव-वैष्णव, हिन्दू-मुस्लिम में | प्याज खाने वाले और प्याज न खाने वाले आपस में लड़ेंगे | लहसुन खाने वाले Continue Reading →

419 total views, 3 views today

[read_more id="1" more="Read more" less="Read less"]Read more hidden text[/read_more]
Share this post